kaizen meaning in hindi काइज़ेन मीनिंग इन हिंदी

kaizen meaning in hindi काइज़ेन मीनिंग इन हिंदी 
Here you can find ''kaizen meaning in hindi''. काइज़ेन मतलब क्या होता है ?

kaizen 
kai+zen 
Change and Good - बदलाव अच्छे के लिए

kaizen meaning in hindi

kaizen एक जापानी शब्द है यह दो शब्दों  से मिलकर बना हुआ है  kai + zen जिसका मतलब होता है change + Good  (बदलाव अच्छे के लिए)  एसा कोई भी बदलाव improvement के लिए जो हम कर सकते है उसे हम kaizen कहते है। इसमें हम छोटे छोटे improvements करते रहते है जिससे की productivity बढती है और waste/rejection में कमी आती है।

किसी भी organization में उसमे काम करने वाला हर व्यक्ति चाहे वह house-kipping वाला बंदा हो या staff का हर व्यक्ति जहा काम कर रहा है अपने area में रोज छोटे छोटे improvement करे वो काम kaizen कहलाता है। अगर एसा होगा तो company दिन प्रतिदिन growth करेगी।

Kaizen ( काइज़ेन ) कैसे शुरू करे?
काइज़ेन की एक Meeting होती  है जिसमे सभी department के कर्मचारियों को शामिल किया जाता है। और उन्हें इसके बारे में बताया जाता है कि हमें kaizen क्यों करना चाहिए? इसको करने से क्या क्या  लाभ हो सकता है।

हमें kaizen क्यों करना चाहिए ?

1.इससे अत्यधिक Production (उत्पादन) होता है ।
2.कच्चे माल (Raw materials) और ईंधन की बढ़ती हुई कीमत।
3. कम कीमत में अच्छा व best Quality का Product का उत्पादन करना।
4. customer की जरुरत केअनुसार अच्छी quality का product उत्पन्न करना।

( काइज़ेन ) kaizen के लाभ

1. कार्यप्रणाली में सुधार आएगा।
2. काम आसान हो जायेगा।
3. सुरक्षित काम होगा।
4. अनावश्यक काम समाप्त हो जाएगा।
5. Quality में सुधार हो जायेगा।
6. उत्पादन में सुधार हो जायेगा।
7. उत्पादन का मूल्य कम हो जाएगा।

Waste क्या होता है ?-
waste हमारे किसी भी organization में जो activty होती है activty दो तरह की होती है Value Added Activity और Non Value Added Activity मतलब हम जो भी काम करते है उसमे काफी सारा जो बड़ा हिस्सा होता है और एसा माना गया है की 90 % activity हम काम करते है किसी भी organization में जो value Add नहीं होता है बाकी का 10 % value add होता है। 
 
Non Value Added Activity दो तरह की होती है पहला है (NNVA) Necessary Non Value Added Activity इसे Type-1 WASTE भी कहते है और दूसरा है Type-2 WASTE .

Type-1 Waste (NNVA) - Type-1 WASTE ये दो तरह के Activity होते है जो की रहते तो waste ही है लेकिन company के लिए जरुरी भी होते है जैसे की Inspection करना Inspection करने से Parts की value बढती नहीं है लेकिन जरुरी है क्यों कि Inspection करने से हमको उस parts का डाटा मिलेगा जिससे हम Analysis करके  उसमे Improvement कर सकते है। इसे  Necessary non value added activity कहेगे।

जबकि Type 2 Waste जो होता है ये Pure waste होता है। waste  को समझने के लिए कंपनी के कुछ Hidden बातो को जानना होगा। अगर आपकी एक company है कंपनी के अन्दर ऐसे बहुत सारे Activity होती है जो की waste होती है लेकिन उनके बारे के हमे पता नहीं होता है वे छिपे हुए होते है।

जैसे की Break down time ज्यादा है, setup time ज्यादा होता है, shedule सही नहीं है, house kipping सही नहीं है, लोगो का सही तरह से उपयोग नहीं किया जा रहा है, इस तरह की कई सारी activity है जो Hidden रहती है।

कौन कौन से waste होते है ?
Three type से company में waste हो सकते है।

1. People waste people 
2. Quality waste 
3. Quantity waste

People waste तीन प्रकार से हो सकता है - 
1. Over processing
2. Unnecessary motion
3. Waiting 

1. Over processing- किसी भी चीज को requirement से ज्यादा करना।  एक बार inspection करने के बाद दूसरी बार inspection करना waste है।  एक बार cleaning  किया फिर दूसरी बार cleaning  किया अगर इसकी जरुरत नहीं थी फिर भी आपने किया इसे over processing कहते है।

2. Unnecessary motion - किसी भी तरह का motion किसी भी काम के लिए जैसे आप किसी material को  move कर रहे हो या किसी computer में किसी file का इसे इसे motion कहते है । हमें  unnecessary motion को  कम करना होगा। हम इसे रोक तो नहीं सकते है लेकिन इसे कम किया जा सकता है।

3. Waiting-  किसी भी तरह का wait जो है waste हो सकती है। अगर आपका Machin रुका हुआ है या  Material नहीं है। material आने के बाद instruction नहीं है की कौन सा material  बनाना है waste है।आप computer में किसी file को send कर रहे है internet slow है ये भी एक तरह का waste है।  electric चली गई आदमी वेट कर रहा है waste है। किसी भी तरह का जो waiting (इंतज़ार) होता है हमारे system में सारे के सारे  waste होते है। हमें waste को identify करना है और उनको कम करना है।

Quantity waste  तीन प्रकार से हो सकता है
1. Inventory
2. Over production
3. Transportation

1. Inventory - inventry किसी भी तरीके का हो चाहे वो working progress हो या finish  good हो हर तरह का invetory एक बड़ा waste है inventry मतलब आपका work जहा पर रुका होता है।

2. Over production- over production को बहुत बड़ा waste माना गया है आप अगर बहुत production करेगे तो इससे जगह की problems को face करना पड़ेगा और इससे कई सारी problems generate हो जाती है।

3. Transportation - किसी भी कंपनी में कोई भी transportation हो रहा हो जैसे  मटेरियल का movement हो रहा है या किसी और चीज का अगर transportation से कोई भी value add नहीं होती है तो इसलिए हमें unnecessary transportation को बंद करना है।

Quality waste -
Quality waste Defects से होता है  किसी भी तरह का Rejection या फिर Rework अगर हो रहा है ये  एक बहुत बड़ा waste है इसके कई सारे कारण हो सकते है Man, Machine, Material,  Method, Measurement और  Environment इनमे से किसी कारण से हमारा Defect आ सकता है। हमें इनको control करना है। अगर ये control नहीं होगा तो customer के पास ख़राब material supply होगा  इससे cost बढ़ जाता है और customer को satisfection नहीं मिल पाता  है। 

kaizen के सुझाव :-
1. उत्पादन प्रक्रिया और मशीनों  में सुधार करना चाहिए।
2. कार्यालय की कार्यप्रणाली में सुधर करना चाहिए।
3. नए उत्पाद के सम्बन्ध में सुधार।
4. customer संतुष्ट होना चाहिए आपकी quality  से।

kaizen में हम कैसे योगदान दे सकते है?

1. कार्यस्थल में 5s system का use करके।
2. कार्य-प्रणाली (methodology) में छोटे छोटे सुझाव (suggestion) देकर।
3. अनुशासन बनाकर।
4. अपने कार्य से सम्बंधित  सरलीकरण (Simplification) करके।
5. जो हम काम करते है उसे और आसान बनाकर।
6. Quality में लगातार सुधार करके।
7. कार्य के दौरान आने वाली समस्याओं के समाधान में बड़-चढ़ कर भाग लेना।

kaizen meaning in hindi काइज़ेन मीनिंग इन हिंदी 

Post a Comment

0 Comments